harddisk-heating

5 कारण क्यों हार्ड ड्राइव अधिक गर्म हो जाता है और उनका समाधान क्या है ?

यदि आपको भी लगता हैं कि आपके कंप्यूटर की हार्ड डिस्क असामान्य रूप से गर्म हो रही है, तो यह ब्लॉग आपके लिए है। हम आज उन कारणों पर चर्चा करेंगे जिसकी वजह से Hard Disk गर्म होती है और उनका समाधान क्या है वो देखंगे। Hard Disk के गर्म होने के कई कारण हो सकते हैं और अगर हम Hard Disk को ठंडा रखने का कोई उपाए नहीं करें तो इससे Hard Disk खराब भी हो सकती है।

1. एक समय में बहुत अधिक सॉफ्टवेयर का कंप्यूटर में चलना।

जब हम अपने कंप्यूटर में एक ही समय में बहुत अधिक सॉफ्टवेयर चलते हैं तो उसे अच्छे से बिना किसी रुकावट के चलाने के लिए CPU प्रोसेसर अपनी पूरी शक्ति से काम करता है और प्रोसेसर को अच्छे से काम करने के लिए डाटा की जरूरत होती है। ये डाटा प्रोसेसर कंप्यूटर में लगे RAM से लेता है और RAM में डाटा Hard Disk से आता है। यदि हम अपने कंप्यूटर में बहुत जयदा सॉफ्टवेयर और प्रोग्राम एक ही वक्त में चलायेंगे तब प्रोसेसर को अधिक मात्रा में डाटा प्रोसेस करने की जरूरत पड़ेगी और वो RAM से डाटा मांगेगा। यहाँ ये समझना जरूरी है की RAM की मेमोरी कैपेसिटी बहुत अधिक नहीं होती है इसलिए Hard Disk बार बार जरूरत में आने वाले डाटा को RAM में भेजते रहेगा और ये बार बार डाटा को भेजने से Hard Disk पे लोड बढ़ जाता है जिसके कारन ये गर्म होता है।

2. कंप्यूटर में आवश्यक वेंटिलेशन का नहीं होना।

खराब वेंटिलेशन भी ओवरहीटिंग का एक महत्वपूर्ण कारण हो सकता है। सभी कंप्यूटर और लैपटॉप में वेंट होते हैं जो ठंडी हवा को बाहर से खींचने का और गर्म हवा को बाहर निकालने के काम आते हैं। यदि धूल के जमा होने से, कंप्यूटर के रखने के स्थान, या किसी अन्य कारणों से यह वेंट कवर हो जाते है। तो इससे हवा का आना जाना बंद हो जाता है और कंप्यूटर के अंदर गर्मी बढ़ जाती है।
ऐसा ना हो इसके लिए वेंट्स को साफ रखना चाहिए और कंप्यूटर को किसी कपड़े से ढक कर नही रखना चाहिए।

3. Ambient परिवेश टेंपेरेचर का जयदा होना।

कभी-कभी, जब कंप्यूटर उच्च तापमान जैसे खराब वातावरण में काम करता है, एक बंद कमरे में होने के कारण भी ये गर्म हो सकता है। इसलिए, आपको इसे ठंडे वातावरण में रखना चाहिए और कमरे की खिड़की खोल के रखना चाहिए जिससे वातावरण का तापमान कम हो सके। या फिर एक अच्छे कंप्यूटर कूलिंग सिस्टम से लैस करना चाहिए।

4. कंप्यटर वायरस का होना।

वायरस गुप्त रूप से आपके कंप्यूटर में कुछ प्रोग्राम इनस्टॉल करके उन्हें चलाते रहता है। और ये Hard Disk के समान्य रूप से चलने के सिस्टम में भी प्रभाव डालता है। इसलिए, आपको अपने कंप्यूटर की सुरक्षा के लिए हर समय अप-टू-डेट एंटी-वायरस सॉफ़्टवेयर इंस्टॉल रखना चाहिए।
Windows कंप्यूटर में Windows Defender के नाम से एंटी-वायरस सॉफ़्टवेयर पहले से ही रहता है उससे समय-समय पर अपडेट करते रहना चाहिए।

5. Hard Disk सेक्टर्स का खराब होना।

Hard Disk में कई सेक्टर्स होते हैं अगर इनमे से कोई एक सेक्टर खराब हो जाये और कंप्यूटर इसमें डेटा लिखते रहे तो हार्ड डिस्क गर्म हो जाएगी। इस सेक्टर में बार-बार डाटा लिखना और इस सेक्टर से डाटा लेने से हार्डडिस्क का तापमान काफी बढ़ सकता है।
हम कंप्यूटर में CMD को एडमिनिस्ट्रेटर प्रिवलेज के साथ खोल कर “chkdsk” नामक कमांड को काम में लेकर ये देख सकते हैं की कंप्यूटर में हार्ड ड्राइव सामान्य रूप से काम कर रहा है या नहीं।

Leave a Reply